भाजपा की इस खूबसूरत नेता की फाड़ दी साड़ी, की छेड़छाड़

कोलकाता
पश्चिम बंगाल के कोलकाता की जादवपुर यूनिवर्सिटी (जेयू) एक बार फिर चर्चा में है। केन्द्रीय मंत्री और भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो से धक्का-मुक्की और बचाने पहुंचे राज्यपाल जगदीप धनखड़ का रास्ता रोके जाने को लेकर बवाल मचा हुआ है। इस मसले पर राजभवन और राज्य सचिवालय नवान्न के बीच टकराव की स्थिति पैदा होती दिख रही है। इस बीच भाजपा नेता और मशहूर फैशन डिजायनर अग्निमित्रा पाल ने दावा किया कि जादवपुर विश्वविद्यालय में नक्सली छात्रों ने उन पर भी हमला किया, उनकी साड़ी फाड़ दी और उनसे छेड़छाड़ की। उन्होंने शुक्रवार को हमला और बदसलूकी करने वाले छात्रों के खिलाफ जादवपुर थाने में एफआईआर दर्ज कराई। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के परिसर में प्रवेश करते ही उग्र वामपंथी संगठन के छात्रों ने हम पर हमला कर दिया। उन लोगों ने मेरी साड़ी फाड़ दी और मेरे साथ छेड़छाड़ भी की। उन्होंने आरोप लगाया कहा कि विवि के कुलपति सुरंजन दास के कारण ही स्थिति विस्फोटक हो गई।

राज्यपाल का किया समर्थन
तृणमूल महासचिव पार्थ चटर्जी के बयान का जवाब देते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने मंत्री बाबुल को भीड़ से बचाने के लिए राज्यपाल जगदीप धनखड़ के वहां पहुंचने के फैसले का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार चुप बैठी थी और बाबुल के मारे जाने का इंतजार कर रही थी। लेकिन राज्यपाल मंत्री को छुड़ा कर ले आए। इसके लिए हम उन्हें सलाम करते हैं। उन्होंने कुलपति सुरंजन दास के तत्काल इस्तीफे की मांग भी की।

जेयू हिंसा मामले में 4 मामले दर्ज
जादवपुर विश्वविद्यालय (जेयू) हिंसा मामले में पुलिस ने स्वत:संज्ञान लेते हुए केस दर्ज किया है। पुलिस के अलावा इस मामले में लेफ्ट समर्थित छात्र संगठन, एबीवीपी और भाजपा नेता अग्निमित्रा पाल ने जादवपुर थाने में केस दर्ज करायी गई है। लालबाजार से जानकारी मिली है कि केन्द्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो से बदसलूकी व मारपीट के आरोप में पुलिस ने केस दर्ज किया है। जादवपुर थाना ने नित्यानंद मिस्त्री, काजरी मजूमदार , पिनाकी डोले व देवराज कोले समेत १७० जने के खिलाफ भादवी की धारा १४७/ १४८/४४८/३२३/३२४/३३२/३५३/१८६/२८३/४३५/४२७ के तहत मामला दर्ज किया। इस मामले में पुलिस ने अभी किसी को गिरफ्तार नहीं किया है

loading...

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *